# उन्मुखीकरण कार्यक्रम क्या है? | Unmukhikaran Karyakram

उन्मुखीकरण कार्यक्रम :

उन्मुखीकरण कार्यक्रम किसी भी संस्थान में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इस कार्यक्रम को रखने का उद्देश्य एक अज्ञात वातावरण एवं उसके कार्यों और बुनियादी ढांचे से परिचित कराना होता है।

किसी नए लक्ष्य/कार्य प्राप्त करने की दिशा में प्रारंभिक विस्तृत जानकारी या प्रशिक्षण प्रदान कर नए प्रशिक्षार्थी या कर्मचारी को मार्गदर्शन करने की प्रक्रिया उन्मुखीकरण कहलाता है।

उन्मुखीकरण किसी भी संस्था के साथ संबंध स्थापित करने एवं अन्य साथियों के मध्य एक दूसरे को जोड़ने में सक्षम बनाता है। अतः हम कह सकते है की उन्मुखीकरण वह प्रक्रिया है जिससे हमें किसी भी संस्थान/कार्य को समझने, जानने या वहां की नियमों के बारे में अवगत कराने में मदद करता है।

उन्मुखीकरण बुनियादी जानकारी या प्रशिक्षण है जो एक नए कार्य, स्कूल या पाठ्यक्रम शुरू करने वाले लोगों को दिया जाता है। उन्मुखीकरण की एक लंबी अवधि हो सकती है। संगठनात्मक आवश्यकताओं के आधार पर इसमें एक से कई दिन लग सकता है।

उन्मुखीकरण एक ऐसी प्रक्रिया है जिसका उद्देश्य नए प्रशिक्षार्थी या कर्मचारी को अपने विभाग, स्थिति, जिम्मेदारियों और कार्य संस्कृति को समायोजित करने में मदद करना है। उन्मुखीकरण कार्यक्रम के दौरान नवागंतुक अपने कार्यभार समूह के सदस्यों, विभिन्न प्रक्रियाओं आदि के बारे में जानकारी प्राप्त करते है।

किसी नए प्रशिक्षार्थी या कर्मचारी को नए कार्य/लक्ष्य वातावरण में सकारात्मक, समर्थित अनुभव प्रदान करने के लिए उन्मुखीकरण आवश्यक है।

Leave a Comment

10 + eighteen =